Rajasthan Shramik Labour Card0
State Government Schemes(राज्य की योजनाएं)

राजस्थान श्रमिक (लेबर) कार्ड 2023: ऑनलाइन पंजीकरण, नवीनीकरण व लाभार्थी सूची (PDF Download)

राजस्थान लेबर कार्ड 2023 एक सरकार द्वारा जारी पहचान पत्र है जो राज्य में पंजीकृत श्रमिकों को लाभ प्रदान करता है। यह राजस्थान भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा जारी किया जाता है और विभिन्न सामाजिक कल्याण योजनाओं, जैसे स्वास्थ्य और शिक्षा लाभ, वित्तीय सहायता और बीमा तक पहुँच प्रदान करता है। श्रमिक कार्ड के पात्र होने के लिए, श्रमिकों को राज्य में निर्माण या अन्य भवन-संबंधी कार्यों में संलग्न होना चाहिए और 18 वर्ष की आयु पूरी करनी चाहिए।

Contents

श्रमिक कार्ड 2023 राजस्थान: संक्षिप्त जानकारी

यहाँ राजस्थान में लेबर कार्ड योजना का तालिका प्रारूप में अवलोकन दिया गया है। नीचे दी गई टेबल के माध्यम से आप इस योजना से जुड़ी संक्षिप्त जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 

योजना का नाम  श्रमिक कार्ड
राज्य  राजस्थान
उद्देश्य निर्माण श्रमिकों और असंगठित मजदूरों को लाभ प्रदान करना
लाभ  वित्तीय सहायता, कौशल प्रशिक्षण, चिकित्सा सहायता, जीवन बीमा, पेंशन, आवास, शिक्षा सहायता
पात्रता मानदंड  राजस्थान का निवासी होना चाहिए, निर्माण कार्य या असंगठित श्रम में लगे, 18-60 वर्ष की आयु के बीच
आवेदन आधिकारिक राजस्थान श्रमिक पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कैसे करें या निकटतम कॉमन सर्विस सेंटर पर ऑफ़लाइन 
आवश्यक दस्तावेज  आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, राशन कार्ड, बैंक खाता विवरण, पासपोर्ट आकार की तस्वीर, निवास का प्रमाण, रोजगार का प्रमाण
कार्ड की वैधता  5 वर्ष
नवीनीकरण  आवश्यक दस्तावेज जमा करने के बाद नवीनीकरण को अगले 5 वर्षों के लिए नवीनीकृत किया जा सकता है
कार्ड शुल्क  निःशुल्क

राजस्थान मजदूर/श्रमिक कार्ड क्या है?

लेबर कार्ड / श्रमिक कार्ड राजस्थान भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा भारत के राजस्थान राज्य में भवन एवं निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों को जारी किया जाने वाला एक पहचान पत्र है। कार्ड पहचान के प्रमाण के रूप में कार्य करता है और स्वास्थ्य और शिक्षा लाभ, वित्तीय सहायता और बीमा सहित विभिन्न सामाजिक कल्याण योजनाओं तक पहुंच प्रदान करता है। राजस्थान लेबर कार्ड / राजस्थान श्रमिक कार्ड प्राप्त करने के लिए, श्रमिकों को कुछ पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा और उपयुक्त सरकारी अधिकारियों को आवश्यक दस्तावेज जमा करना होगा।

यह भी पढ़ें ->   Inter Caste Marriage Scheme Punjab: Eligibility, Benefits, Incentive Amount, Documents

राजस्थान लेबर कार्ड / श्रमिक कार्ड नया अपडेट

राजस्थान लेबर कार्ड के बारे में नवीनतम अपडेट यह है कि राज्य सरकार ने 2020 में “मुख्यमंत्री श्रमिक रोजगार योजना” की घोषणा की है, जिसका उद्देश्य राज्य में श्रमिकों को रोजगार के अवसर और सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना है।

इस योजना के हिस्से के रूप में, सरकार ने लेबर कार्ड योजना के तहत पंजीकृत श्रमिकों को प्रदान की जाने वाली वित्तीय सहायता को ₹3,500 से बढ़ाकर ₹5,000 प्रति वर्ष कर दिया। सरकार ने अगले तीन साल के लिए लेबर कार्ड की रिन्यूअल फीस भी माफ कर दी।

राजस्थान लेबर कार्ड या श्रमिक कार्ड के उद्देश्य

राजस्थान मजदूर कार्ड 2023/श्रमिक कार्ड 2023 के मुख्य उद्देश्य हैं:

  1. राजस्थान राज्य में भवन निर्माण एवं निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों को पहचान पत्र प्रदान करना।
  2. पंजीकृत श्रमिकों को विभिन्न सामाजिक कल्याण योजनाओं और सरकार द्वारा प्रदान किए जाने वाले लाभों, जैसे स्वास्थ्य और शिक्षा लाभ, वित्तीय सहायता और बीमा तक पहुंच बनाने में सक्षम बनाना।
  3. राज्य में श्रमिकों के कल्याण और भलाई को बढ़ावा देना और उनकी सामाजिक और आर्थिक सुरक्षा सुनिश्चित करना।
  4. निर्माण और भवन क्षेत्र में लगे श्रमिकों के रोजगार को विनियमित और निगरानी करना और उनके अधिकारों और हितों की रक्षा करना।
  5. राज्य में भवन निर्माण एवं निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों का डाटाबेस तैयार करना तथा उसका उपयोग नीति नियोजन एवं क्रियान्वयन में करना।

राजस्थान में मजदूर कार्ड/श्रमिक कार्ड के लाभ

राजस्थान में लेबर कार्ड / श्रमिक कार्ड योजना के तहत पंजीकृत श्रमिकों को कई लाभ प्रदान करता है। कुछ प्रमुख लाभों में शामिल हैं:

  1. बच्चों की पढ़ाई के लिए आर्थिक सहायता
  2. बेटियों की शादी के लिए आर्थिक सहायता
  3. जानलेवा बीमारियों के इलाज के लिए आर्थिक सहायता
  4. महिला श्रमिकों के लिए मातृत्व लाभ
  5. काम से संबंधित दुर्घटनाओं के कारण विकलांग होने वाले श्रमिकों के लिए विकलांगता सहायता
  6. की आयु से ऊपर के श्रमिकों के लिए वृद्धावस्था पेंशन
  7. काम से संबंधित दुर्घटनाओं के कारण मरने वाले श्रमिकों के परिवार को मृत्यु लाभ
  8. श्रमिकों को अपना घर बनाने या खरीदने के लिए अनुदानित ऋण
  9. श्रमिकों की रोजगार क्षमता बढ़ाने के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण
  10. श्रमिकों के लिए जीवन और दुर्घटना बीमा कवरेज
  11. विभिन्न सरकारी सेवाओं के लिए शुल्क में छूट, जैसे कि नई नौकरी के लिए आवेदन या प्रमाणपत्र जारी करना
  12. सरकारी नौकरियों और व्यावसायिक प्रशिक्षण कार्यक्रमों के लिए प्राथमिकता

विशिष्ट लाभ और पात्रता मानदंड उस समय की सरकारी नीतियों और राजस्थान लेबर कार्ड योजना / राजस्थान श्रमिक कार्ड योजना के आधार पर भिन्न हो सकते हैं।

राजस्थान में लेबर कार्ड के लिए पात्रता मानदंड

राजस्थान में लेबर कार्ड या श्रमिक कार्ड प्राप्त करने के लिए पात्रता मानदंड इस प्रकार हैं:

  1. आवेदक राजस्थान राज्य का निवासी होना चाहिए।
  2. आवेदक की आयु कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए।
  3. आवेदक को राजस्थान राज्य में भवन निर्माण और निर्माण कार्य में या तो दिहाड़ी मजदूर के रूप में या स्व-नियोजित श्रमिक के रूप में संलग्न होना चाहिए।
  4. आवेदक को पहचान का प्रमाण देना होगा, जैसे आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र या पासपोर्ट।
  5. आवेदक को निवास का प्रमाण देना होगा, जैसे राशन कार्ड, बिजली बिल या टेलीफोन बिल।
  6. आवेदक को कार्य आदेश, नियुक्ति पत्र, या किसी अन्य प्रासंगिक दस्तावेज के रूप में रोजगार का प्रमाण देना होगा।
यह भी पढ़ें ->   Swami Vivekananda Youth Empowerment Scheme, Uttar Pradesh: Free Tablet/Smartphone Scheme for Youth

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि विशिष्ट पात्रता मानदंड और आवश्यक दस्तावेज आवेदन के समय सरकारी नीतियों और योजनाओं के आधार पर भिन्न हो सकते हैं।

राजस्थान में श्रमिक/लेबर कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?

राजस्थान में लेबर कार्ड / श्रमिक कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के चरण इस प्रकार हैं:

  1. राजस्थान भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट https://labour.rajasthan.gov.in/ पर जाएँ.
  2. “ऑनलाइन सेवाएं” टैब पर क्लिक करें और “पंजीकरण” चुनें
  3. सभी आवश्यक व्यक्तिगत और रोजगार विवरण के साथ पंजीकरण फॉर्म भरें।
  4. पहचान, निवास और रोजगार के प्रमाण जैसे आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें।
  5. पंजीकरण शुल्क का भुगतान करें, जो उस समय की सरकारी नीतियों के आधार पर भिन्न हो सकता है।
  6. आवेदन जमा करें और भविष्य के संदर्भ के लिए पंजीकरण संख्या को नोट कर लें।
  7. आवेदन जमा करने के बाद, आवेदक को दस्तावेज़ सत्यापन और बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के लिए संबंधित सरकारी कार्यालय में जाने की आवश्यकता हो सकती है।
  8. एक बार आवेदन स्वीकृत हो जाने के बाद, आवेदक को पंजीकृत पते पर डाक द्वारा लेबर कार्ड प्राप्त होगा।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि आवेदन के समय विशिष्ट आवेदन प्रक्रिया और आवश्यक दस्तावेज सरकारी नीतियों और योजनाओं के आधार पर भिन्न हो सकते हैं।

राजस्थान में लेबर कार्ड 2023 के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

लेबर कार्ड 2023 / श्रमिक कार्ड 2023 के लिए ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आवेदक नीचे दिए गए चरणों का पालन कर सकता है:

  1. आवेदन पत्र प्राप्त करने के लिए निकटतम कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) या राजस्थान भवन और अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड कार्यालय पर जाएँ।
  2. सभी आवश्यक व्यक्तिगत और रोजगार विवरण के साथ आवेदन पत्र भरें।
  3. आवेदन पत्र के साथ पहचान, निवास और रोजगार के प्रमाण जैसे आवश्यक दस्तावेज संलग्न करें।
  4. संबंधित कार्यालय में दस्तावेजों के साथ आवेदन पत्र जमा करें।
  5. पंजीकरण शुल्क का भुगतान करें, जो आवेदन के समय सरकारी नीतियों के आधार पर भिन्न हो सकता है।
  6. आवेदक को आवेदन जमा करने के प्रमाण के रूप में एक पावती रसीद प्राप्त होगी।
  7. दस्तावेज़ सत्यापन और बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के बाद, आवेदक को पंजीकृत पते पर डाक द्वारा लेबर कार्ड प्राप्त होगा।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि आवेदन के समय विशिष्ट आवेदन प्रक्रिया और आवश्यक दस्तावेज सरकारी नीतियों और योजनाओं के आधार पर भिन्न हो सकते हैं।

राजस्थान में लेबर कार्ड/श्रमिक कार्ड के लिए अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

राजस्थान में लेबर कार्ड/श्रमिक कार्ड के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (एफएक्यू) यहां दिए गए हैं:

राजस्थान में श्रमिक कार्ड क्या है?

राजस्थान में लेबर कार्ड राजस्थान भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा राज्य में भवन एवं निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों को जारी किया जाने वाला एक पहचान पत्र है।

राजस्थान में लेबर कार्ड होने के क्या फायदे हैं?

श्रमिक कार्ड सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली विभिन्न सामाजिक कल्याण योजनाओं और लाभों तक पहुंच प्रदान करता है, जैसे वित्तीय सहायता, स्वास्थ्य और शिक्षा लाभ, बीमा कवरेज और अन्य सहायता सेवाएं।

राजस्थान में श्रमिक कार्ड के लिए कौन पात्र है?

राजस्थान राज्य में भवन निर्माण और निर्माण कार्य में लगे श्रमिक जिनकी आयु कम से कम 18 वर्ष है और जो पहचान, निवास और रोजगार का प्रमाण प्रदान करते हैं, लेबर कार्ड के लिए आवेदन करने के पात्र हैं।

यह भी पढ़ें ->   छत्तीसगढ़ अंतरजातीय विवाह योजना - Apply, Eligibility, Documents

मैं राजस्थान में लेबर कार्ड के लिए कैसे आवेदन कर सकता हूं?

आप राजस्थान में लेबर कार्ड के लिए या तो राजस्थान भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं, या निकटतम सामान्य सेवा केंद्र या संबंधित सरकारी कार्यालय से आवेदन पत्र प्राप्त करके ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं।

राजस्थान में लेबर कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए कौन से दस्तावेज आवश्यक हैं?

राजस्थान में लेबर कार्ड/श्रमिक कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेजों में अन्य प्रासंगिक दस्तावेजों के साथ पहचान, निवास और रोजगार का प्रमाण शामिल हो सकता है।

राजस्थान में श्रमिक कार्ड प्राप्त करने में कितना खर्च आता है?

राजस्थान में लेबर कार्ड प्राप्त करने के लिए पंजीकरण शुल्क आवेदन के समय सरकार की नीतियों और योजनाओं के आधार पर भिन्न हो सकता है।

राजस्थान में लेबर कार्ड प्राप्त करने में कितना समय लगता है?

राजस्थान में लेबर कार्ड प्राप्त करने में लगने वाला समय आवेदन के समय सरकार की नीतियों और योजनाओं के साथ-साथ दस्तावेज़ सत्यापन और बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के लिए प्रसंस्करण समय के आधार पर भिन्न हो सकता है।

निष्कर्ष के तौर पर

राजस्थान में लेबर कार्ड / श्रमिक कार्ड राजस्थान सरकार द्वारा राज्य में भवन निर्माण और निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों को सामाजिक कल्याण और वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए एक महत्वपूर्ण पहल है।

लेबर कार्ड या श्रमिक कार्ड एक पहचान पत्र के रूप में कार्य करता है और विभिन्न सरकारी योजनाओं और लाभों, जैसे स्वास्थ्य और शिक्षा लाभ, बीमा कवरेज, और अन्य सहायता सेवाओं तक पहुंच प्रदान करता है। पात्र श्रमिक आवश्यक दस्तावेज प्रदान करके और पंजीकरण शुल्क का भुगतान करके लेबर कार्ड के लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि आवेदन के समय विशिष्ट पात्रता मानदंड, आवेदन प्रक्रिया और आवश्यक दस्तावेज सरकारी नीतियों और योजनाओं के आधार पर भिन्न हो सकते हैं।