Civil Seva Protsahan Yojana Bihar 10
Education & LearningState Government Schemes(राज्य की योजनाएं)

मुख्यमंत्री सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 बिहार: BPSC/UPSC विद्यार्थी पंजीकरण व पात्रता

सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023, बिहार सरकार की एक प्रमुख योजना है, जिसका उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के मेधावी विद्यार्थियों को सिविल सेवाओं में करियर बनाने के लिए समर्थन और प्रोत्साहित करना है। यह योजना मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) या संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है। बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 उन छात्रों पर वित्तीय बोझ को कम करने की एक पहल है जो वंचित पृष्ठभूमि से आते हैं और सिविल सेवा परीक्षा के लिए आवश्यक कोचिंग और अध्ययन सामग्री की उच्च लागत वहन नहीं कर सकते हैं।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा 2018 में शुरू की गई बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 राज्य में एक बड़ी सफलता रही है, क्योंकि इसने योग्य उम्मीदवारों को बहुत आवश्यक वित्तीय सहायता प्रदान की है। इस योजना ने विशेषाधिकार प्राप्त और वंचित छात्रों के बीच के अंतर को कम करने में मदद की है, सिविल सेवाओं के सभी उम्मीदवारों के लिए एक समान अवसर प्रदान किया है। आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के छात्रों की प्रतिभा का समर्थन और पोषण करके, बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 बिहार में अधिक समावेशी और समतामूलक समाज के निर्माण में योगदान दे रही है।

Contents

बिहार मुख्यमंत्री सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना का विवरण

यहाँ सारणीबद्ध प्रारूप में बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना का अवलोकन किया गया है:

योजना का नाम सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 
लॉन्च किया गया बिहार सरकार द्वारा 
उद्देश्य  विभिन्न राज्य स्तरीय परीक्षाओं में उपस्थित होने के लिए बिहार में बेरोजगार युवाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करना
पात्रता मापदंड बिहार के बेरोजगार युवा जिन्होंने 10वीं या 12वीं की परीक्षा पास की है
फ़ायदे राज्य स्तरीय परीक्षाओं जैसे बीपीएससी, बिहार पुलिस, बिहार कर्मचारी चयन आयोग, और अन्य में उपस्थित होने के लिए ₹25,000 तक की वित्तीय सहायता
आवेदन प्रक्रिया बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन
चयन प्रक्रिया आवेदकों का चयन कक्षा 10 या कक्षा 12 की परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर तैयार की गई मेरिट सूची के आधार पर किया जाएगा।
लांच तारीख अगस्त 2020
बजट आवंटन ₹25 करोड़ वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए योजना के लिए आवंटित
क्रियान्वयन एजेंसी शिक्षा विभाग, बिहार सरकार
वेबसाइट https://www.7nishchay-yuvaupmission.bihar.gov.in/

बिहार मुख्यमंत्री सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 क्या है?

मुख्यमंत्री सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना बिहार बिहार सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है जो आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के मेधावी उम्मीदवारों को सिविल सेवाओं में करियर बनाने के लिए समर्थन और प्रोत्साहित करने के लिए शुरू की गई है। 

यह भी पढ़ें ->   मृत्यु प्रमाण पत्र दिल्ली: ऑनलाइन आवेदन, शुल्क भुगतान (Death Certificate Delhi MCD)

यह योजना मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) या संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान करती है। यह योजना उन छात्रों पर वित्तीय बोझ को कम करने के लिए एक पहल है जो वंचित पृष्ठभूमि से आते हैं और सिविल सेवा परीक्षा के लिए आवश्यक कोचिंग और अध्ययन सामग्री की उच्च लागत वहन नहीं कर सकते।

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के तहत, पात्र छात्र मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए ₹1 लाख तक की वित्तीय सहायता प्राप्त कर सकते हैं। यह योजना विशेषाधिकार प्राप्त और वंचित छात्रों के बीच अंतर को कम करने की दिशा में एक बड़ा कदम है, जो सिविल सेवाओं के सभी उम्मीदवारों के लिए एक समान अवसर प्रदान करती है। 

इस योजना से आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के छात्रों की प्रतिभा का समर्थन और पोषण करके बिहार में एक अधिक समावेशी और न्यायसंगत समाज के निर्माण में योगदान करने की भी उम्मीद है। यह योजना अपने लॉन्च के बाद से ही एक बड़ी सफलता रही है, जो योग्य उम्मीदवारों को बहुत आवश्यक वित्तीय सहायता प्रदान करती है और उन्हें अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद करती है।

सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 बिहार हेतु आवेदन

बिहार में सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के लिए आवेदन करने के लिए आप नीचे दिए गए चरणों का पालन कर सकते हैं:

  • बिहार स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड योजना के आधिकारिक पोर्टल https://www.7nishchay-yuvaupmission.bihar.gov.in/ पर जाएं।
  • होमपेज पर “स्कीम्स” टैब के तहत “सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना” विकल्प पर क्लिक करें।
  • पात्रता मानदंड और योजना के अन्य विवरणों को ध्यान से पढ़ें।
  • पेज पर “अभी आवेदन करें” बटन पर क्लिक करें।
  • ऑनलाइन आवेदन पत्र में आवश्यक विवरण भरें जैसे कि व्यक्तिगत जानकारी, शैक्षिक योग्यता आदि।
  • कक्षा 10 या कक्षा 12 की मार्कशीट, आधार कार्ड और बैंक खाता विवरण जैसे आवश्यक दस्तावेज अपलोड करें।
  • आवेदन पत्र ऑनलाइन जमा करें।
  • भविष्य के संदर्भ के लिए आवेदन पत्र का प्रिंटआउट ले लें।

आवेदन पत्र जमा करने के बाद, अधिकारी विवरणों का सत्यापन करेंगे और कक्षा 10 या कक्षा 12 की परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर मेरिट सूची तैयार करेंगे। चयनित उम्मीदवार राज्य स्तरीय परीक्षा में उपस्थित होने के लिए 25,000 रुपये तक की वित्तीय सहायता के पात्र होंगे।

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 के लाभ और अनुदान

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के मेधावी उम्मीदवारों को कई लाभ और अनुदान प्रदान करती है जो सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। योजना के कुछ प्रमुख लाभ और अनुदान हैं:

  1. वित्तीय सहायता:

यह योजना मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) या संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को ₹1 लाख तक की वित्तीय सहायता प्रदान करती है। यह वित्तीय सहायता उन छात्रों पर वित्तीय बोझ को कम करने में मदद करती है जो वंचित पृष्ठभूमि से आते हैं और सिविल सेवा परीक्षा के लिए आवश्यक कोचिंग और अध्ययन सामग्री की उच्च लागत वहन नहीं कर सकते।

  1. योग्यता आधारित:

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 योग्यता आधारित है, जिसका अर्थ है कि केवल वे उम्मीदवार जिन्होंने बीपीएससी या यूपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण की है, वे वित्तीय सहायता के पात्र हैं। यह सुनिश्चित करता है कि केवल योग्य उम्मीदवारों को ही वित्तीय सहायता प्राप्त हो, और यह उम्मीदवारों को कड़ी मेहनत करने और परीक्षाओं में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहन प्रदान करता है।

  1. सिविल सेवा में करियर को प्रोत्साहित करता है:
यह भी पढ़ें ->   Madhyamik Drop-out Coaching Scheme 2023 Tripura: Eligibility, Benefits, Courses List & How to Apply

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 को आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के मेधावी छात्रों को सिविल सेवाओं में करियर बनाने के लिए प्रोत्साहित करने और समर्थन देने के लिए बनाया गया है। वित्तीय सहायता प्रदान करके और छात्रों पर वित्तीय बोझ को कम करके, यह योजना वंचित पृष्ठभूमि के छात्रों को सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करने और उसमें शामिल होने के लिए संभव बनाती है।

  1. समावेशी विकास:

बिहार सिविल सर्विस प्रमोशन स्कीम 2023, विशेषाधिकार प्राप्त और वंचित छात्रों के बीच अंतर को कम करने में मदद करती है, सिविल सेवाओं के सभी उम्मीदवारों के लिए एक समान अवसर प्रदान करती है। यह आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के छात्रों की प्रतिभा का समर्थन और पोषण करके बिहार में अधिक समावेशी और न्यायसंगत समाज के निर्माण में योगदान देता है।

बिहार सिविल सर्विस प्रमोशन स्कीम 2023 योग्य उम्मीदवारों को बहुत आवश्यक वित्तीय सहायता और प्रोत्साहन प्रदान करती है, जिससे उन्हें अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने और सिविल सेवाओं में अपना करियर बनाने में मदद मिलती है।

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होती है:

  1. निवास का प्रमाण: उम्मीदवार को वैध आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड या पासपोर्ट जैसे निवास का प्रमाण देना होगा।
  2. आय प्रमाण पत्र: उम्मीदवार को यह स्थापित करने के लिए सक्षम प्राधिकारी से आय प्रमाण पत्र प्रदान करना होगा कि वे आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से संबंधित हैं।
  3. शिक्षा प्रमाण पत्र: उम्मीदवार को यह स्थापित करने के लिए शिक्षा का प्रमाण पत्र प्रदान करना होगा कि उन्होंने बीपीएससी या यूपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा पास कर ली है।
  4. बैंक के खाते का विवरण: वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए उम्मीदवार को एक वैध बैंक खाता संख्या और IFSC कोड प्रदान करना होगा।
  5. फोटोग्राफ: उम्मीदवार को एक हालिया पासपोर्ट आकार की तस्वीर प्रदान करनी होगी।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि योजना के लाभों का लाभ उठाने के लिए आवश्यक विशिष्ट दस्तावेज बिहार सरकार की आवश्यकताओं के आधार पर भिन्न हो सकते हैं। उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवश्यक दस्तावेजों को जानने के लिए बिहार सरकार या संबंधित विभाग की आधिकारिक वेबसाइट देखें।

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 के लिए पात्रता मानदंड

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के लिए पात्रता मानदंड इस प्रकार हैं:

  1. उम्मीदवार को बिहार का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  2. उम्मीदवार को समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से संबंधित होना चाहिए।
  3. उम्मीदवार को मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) या संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करनी चाहिए।
  4. उम्मीदवार को पहले इस योजना के तहत वित्तीय सहायता का लाभ नहीं उठाना चाहिए था।
  5. उम्मीदवार को किसी अन्य सरकारी या गैर-सरकारी संगठन से इसी उद्देश्य के लिए किसी अन्य छात्रवृत्ति या वित्तीय सहायता का लाभ नहीं उठाना चाहिए।

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि पात्रता मानदंडों को पूरा करना योजना के तहत वित्तीय सहायता की गारंटी नहीं देता है। योग्यता-आधारित प्रणाली पर वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, और प्रारंभिक परीक्षा में उनके प्रदर्शन के आधार पर केवल सबसे योग्य उम्मीदवारों का चयन किया जाता है। वित्तीय सहायता के लिए उम्मीदवारों के चयन के संबंध में अंतिम निर्णय बिहार सरकार द्वारा लिया जाता है, और इस संबंध में सरकार का निर्णय अंतिम और बाध्यकारी होता है।

यह भी पढ़ें ->   Property Mutation in Delhi: e-Mutation Download, Apply Dakhil Kharij, e-Valuation, Search Registered Deed/Encumbrance, & View Prohibited Property

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न संबंधित बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (एफएक्यू) यहां दिए गए हैं:

  • बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना का उद्देश्य क्या है ?

योजना का उद्देश्य समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के मेधावी छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है जो सिविल सेवा परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं। इस योजना का उद्देश्य इन छात्रों को उनके वित्तीय बोझ को कम करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना और उन्हें सिविल सेवाओं में करियर बनाने के लिए प्रोत्साहित करना है।

  • बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के लिए आवेदन करने के लिए कौन पात्र है?

जिन छात्रों ने बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) या संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण की है और समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से संबंधित हैं, वे इस योजना के लिए आवेदन करने के पात्र हैं।

  • योजना के तहत प्रदान की जाने वाली वित्तीय सहायता की अधिकतम राशि क्या है?

योजना के तहत प्रदान की जाने वाली वित्तीय सहायता की अधिकतम राशि ₹1 लाख है।

  • मैं बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के लिए कैसे आवेदन कर सकता हूं?

उम्मीदवार बिहार सरकार की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। वे संबंधित विभाग को आवश्यक दस्तावेजों के साथ आवेदन पत्र जमा करके ऑफलाइन भी आवेदन कर सकते हैं।

  • क्या योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए कोई आयु सीमा है?

नहीं, योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए कोई आयु सीमा नहीं है। जब तक उम्मीदवार पात्रता मानदंडों को पूरा करता है, तब तक वे योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।

  • क्या बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना में आवेदन करने के लिए कोई शुल्क है?

नहीं, योजना में आवेदन करने के लिए कोई शुल्क नहीं है। यह योजना समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के मेधावी छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए डिज़ाइन की गई है, और आवेदन प्रक्रिया में कोई शुल्क शामिल नहीं है।

ये बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले कुछ प्रश्न हैं। उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए बिहार सरकार या संबंधित विभाग की आधिकारिक वेबसाइट देखें।

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 के लिए संपर्क विवरण

बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 के लिए संपर्क विवरण इस प्रकार हैं:

  • पता:

सामाजिक सुरक्षा निदेशालय, द्वितीय तल, विकास भवन, बेली रोड, पटना – 800015, बिहार, भारत

  • फ़ोन नंबर:

0612-2539707

  • ईमेल:

dir.socwelfare-bih@gov.in

आवेदक बिहार सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना 2023 के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए उपरोक्त पते, फोन नंबर या ईमेल पर संपर्क कर सकते हैं। वे योजना के बारे में अधिक जानने के लिए बिहार सरकार या संबंधित विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर भी जा सकते हैं।